• Home
  • भारत निर्यात में ऐतिहासिक ऊंचाई हासिल करने की राह पर : गोयल

भारत निर्यात में ऐतिहासिक ऊंचाई हासिल करने की राह पर : गोयल

नयीदिल्ली,14नवंबर(भाषा)केंद्रीयवाणिज्यएवंउद्योगमंत्रीपीयूषगोयलनेरविवारकोकहाकिभारतीयअर्थव्यवस्थाकेसभीक्षेत्रोंमेंउछालदेखाजारहाहैऔरदेशवस्तुओंऔरसेवाओंकेनिर्यातकेमामलेमेंऐतिहासिकऊंचाईकीओरअग्रसरहै।उन्होंनेकहा,‘‘भारतमार्चमेंसमाप्तहोनेवालेवित्तवर्षमें400अरबडॉलरकेवस्तुओंकेनिर्यातकेलक्ष्यकोहासिलकरलेगा।’’उन्होंनेकहाकिइसकेअलावाहम150अरबडॉलरकेसेवाओंकेनिर्यातकोभीहासिलकरेंगे।‘‘ऐसेमेंहमवस्तुओंऔरसेवाओंकेऐतिहासिकनिर्यातकोहासिलकरेंगे।’’गोयलनेयहांभारतअंतरराष्ट्रीयव्यापारमेले(आईआईटीएफ)काउद्घाटनकरतेहुएकहाकिदेशमेंचालूवित्तवर्षकेपहलेचारमहीनोंमें27अरबडॉलरकारिकॉर्डप्रत्यक्षविदेशीनिवेश(एफडीआई)आयाहै।यहपिछलेसालकीसमानअवधिकीतुलनामें62प्रतिशतअधिकहै।गोयलनेकहाकिआजदुनियाभारतकोवैश्विकआपूर्तिश्रृंखलामेंएकभरोसेमंदभागीदारकेरूपमेंदेखरहीहै।उन्होंनेकहाकिलॉकडाउनकेबावजूदभारतनेवैश्विकसमुदायकोसेवाओंकेसमर्थनमेंकोईचूकनहींकी।उन्होंनेकहाकिभारतसरकारदुनियाकासबसेबड़ाटीकाकरणअभियानचलारहीहै।अभीतकलोगोंकोटीकेकी110करोड़खुराकदीजाचुकीहैं।उन्होंनेकहाकिअगलेसालभारतमेंटीकेकी500करोड़खुराककाउत्पादनकियाजाएगा।देशमेंपांचयाछहटीकोंकाउत्पादनहोगा।गोयलनेकहाकिभारतदुनियाकाउद्योगऔरसेवाकेंद्रबनसकताहै।उन्होंनेकहा,‘‘गुणवत्ता,प्रतिस्पर्धाऔरपैमानेकेमामलेमेंभारतीयउद्योगनईऊंचाईपरपहुंचसकताहै।आईआईटीएफकेजरियेहमें‘स्थानीयकोवैश्विकबनाओ’और‘दुनियाकेलिएभारतमेंबनाओ’केलक्ष्यकोहासिलकरनेमेंमददमिलेगी।