• Home
  • बरेली पुलिस में अब पॉलीथीन के प्रयोग को ना, 'पैडमैन' बने डीआइजी राजेश कुमार पाण्डेय

बरेली पुलिस में अब पॉलीथीन के प्रयोग को ना, 'पैडमैन' बने डीआइजी राजेश कुमार पाण्डेय

बरेली[अंकितगुप्ता]।उत्तरप्रदेशमेंपुलिसबलमेंबढ़ोतरीकेसाथहीमहिलापुलिसकर्मियोंकीसंख्यामेंइजाफाहुआहै।महिलापुलिसकर्मीमहिलाओंकेप्रतिअपराधरोकनेमेंसहायकबनरहीहैं।

ऐसेमेंमहिलापुलिसकर्मियोंकाअपनेकाममेंलगनेकेसाथखुदभीस्वस्थरहनाजरूरीहै।इसकेलिएबरेलीकेपुलिसउपमहानिरीक्षक(डीआइजी)राजेशकुमारपाण्डेयखुद'पैडमैन'कीभूमिकानिभारहेहैं।उन्होंनेपुलिसलाइनमेंसेनेटरीपैडमैन्यूफैक्चरिंगयूनिटकीस्थापनाकराईहै।यहांपैडबनाकरकमसेकमदामपरमहिलापुलिसकर्मियोंकोउपलब्धकरायाजाएगा।यहतोप्राथमिकयोजनाहै।प्रयोगसफलरहातोजिलेकीअन्यमहिलाओंकोभीइससेलाभान्वितकियाजाएगा।

पुलिसलाइनमेंलगीमशीनकीकीमतकरीबतीनलाखरुपयेहै।मशीनसेपैडबनानेकापरीक्षणभीहोचुकाहै।परीक्षणमेंएकपैडकीलागतएकसेसवारुपयेकेकरीबआरहीहै।मशीनसंचालितकरनेकेलिएपुरुषकेअलावामहिलापुलिसकर्मियोंकोभीप्रशिक्षितकियागयाहै।अबइससेनेटरीपैडमैन्यूफैक्चरिंगयूनिटकीविधिवतशुरुआत14जनवरीकोकीजाएगी।

चारहजारमहिलाओंकोहोगाफायदा

इसपहलकाफायदाजिलेकीकुलचारहजारमहिलापुलिसकर्मियोंकोहोगा।पुलिसलाइनमेंरहरहींमहिलापुलिसकर्मियों,यहारहनेवालेपुलिसकर्मियोंकेपरिवारकीमहिलाओं,पुलिसमॉडलस्कूलकीबच्चियों,महिलारिक्रूट,महिलाकल्याणकेंद्रमेंतैनातकर्मीइसकालाभलेसकेंगे।

पॉलीथिनकेइस्तेमालकोना

सेनेटरीपैडकीबिक्रीकीजाएगी।इसकेलिएपैकेटभीबनेंगे,लेकिनयहपैकेटपॉलीथिनकेनहींहोंगे।इसकेलिएकागजकालिफाफाहोगा,जिसमेंदसपैडपैककिएजाएंगे।जीएसटीकापंजीयनकरायाजाएगा।इसकेबादथानेवारस्टॉललगवाकरयहमहिलापुलिसकर्मियोंवअन्यमहिलाओंकोउपलब्धकरायाजाएगा।

स्वच्छताकीसोचसेशुरूहुईपहल

डीआइजीराजेशकुमारपाण्डेयनेबतायाकिदेशमेंस्वच्छताकोलेकरकईअभियानचलरहेहैं।स्वच्छतासेस्वास्थ्यमेंसुधारलायाजासकताहै।महिलापुलिसकर्मीड्यूटीपरमुस्तैदरहें।इसकेलिएउनकास्वस्थरहनाजरूरीहै।महिलाओंकीसमस्याकोदेखतेहुएसेनेटरीपैडबनानेकीपहलकीजारहीहै।इससेसभीकास्वास्थ्यअच्छारहेगातोवोअच्छेसेड्यूटीकरसकेंगी।