• Home
  • Election 2019: राजस्थान मे भाजपा चार स्तरों पर कर रही है हर लोकसभा क्षेत्र में चुनाव प्रबंधन

Election 2019: राजस्थान मे भाजपा चार स्तरों पर कर रही है हर लोकसभा क्षेत्र में चुनाव प्रबंधन

जयपुर,जेएनएन।राजस्थानमेंभाजपालोकसभाचुनावमेंचारस्तरीयव्यवथाकेतहतहरलोकसभाक्षेत्रमेंचुनावकाप्रबंधनकररहीहै।इसमेंलोकसभाक्षेत्रकेप्रभारीवसंयोजकसेलेकर,बूथतकनेताओवकार्यकर्ताआोंकीफौजखडीकीगईहै।इसकेसाथहीनमोवाॅलिटंयर्सकेरूपमेंकरीबआठहजारकार्यकर्ताभीचुनेगएहै।

राजस्थानमें25लोकसभाक्षेत्रहैंऔरहरलोकसभाक्षेत्रमेंआठविधानसभाक्षेत्रहै।पार्टीनेहरस्तरपरचुनावीगतिविधियोंकेसंयोजन,समन्वयऔरमाॅनिटरिंगकेलिएअलग-अलगस्तरकेकार्यकर्ताओंकोजिम्मेदारीसौंपीहै।खाकाकुछइसतरहबनायागयाहैकिविधानसभाक्षेत्रमेंलगातारगतिविधियांहोंऔरचुनावतककार्यकर्ताओंकीसक्रियताबनीरहे।

इसतरहहोगाभाजपाकाचुनावप्रबंधन-पार्टीसूत्रोंकाकहनाहैकिपार्टीनेसबसेज्यादाफोकसबूथकोकियाहैऔरकोशिशयहहैकिविधानसभााचुनावकेसमयबूथसमितियोंकोलेकरजिसतरहकीशिकायतेंआईथी,वैसीशिकायतइसबारनहींआए।ऐसेमेंजहाबूथसमितियोंकोबदलनेकीजरूरतथी,वहांउन्हेंबदलाभीगयाहै।इसकेउपरशक्तिकेन्द्रबनाएगएहै।इनशक्तिकेन्द्रोंकेअधीनऔसतनपांचसेसातबूथहैजोबूथसमितियोपरहोेनेवाली गतिविधियोंकासमन्वयकररहेहै।शक्तिकेन्द्रोंपरहीनमोवाॅलंटियर्सभीलगाएगएहै।इनकाकामयुवामतदाताओंसेसम्पर्कऔरचुनावसम्बनीगतिविधियोंमेंसहयोगकरनाहै।

शक्तिकेन्द्रोंसेउपरहरविधानसभाक्षेत्रकेलिएसंयोजकऔरप्रभारीनियुक्तकिएगएहै।इनसंयोजकऔरप्रभारितयोंकेपासअपनेविधानसभाक्षेत्रकेसभीशक्तिकेन्द्रोंऔश्रबूथोंकीगतिविधियोंकेसमन्वयऔरमाॅनिटरिगकीजिम्मेदारीहै।इनसंयोजकऔरप्रभारितयोंकेअलावाहरविधानसभाक्षेत्रमेंविस्तारकभीनियुक्तकिएगएहै।यहव्यवस्थाविधानसभाचुनावकेसमयलागूकीगईथी,जिसेलोकसभाचुनावतकबढादियागयाहै।येविस्तारकचुनावसेजुडीगतिविधियोंमेंसहयेागकेसाथहीउसक्षेत्रमेंहोरहीहरतरहकीराजनीतिकगतिविधिपरभीनजररखतेहैंऔरइसकीरिपोर्टप्रदेशनेतृत्वकोभेजतेहै।

सबसेउपरहरलोकसभाक्षेत्रकेलिएचारवरिष्ठनेताओंकीएकटीमबनाईगईहै।इन्हेंप्रभारीवसहप्रभारीतथासंयोजकवसहसंयोजकबनायागयाहै।इनकाकामपूरेलोकसभाक्षेत्रकीमाॅनिटरिंगऔरचुनावकेदौश्रानहोनेवालीसभाओं,रैलियोवअन्यकार्यक्रमोकेप्रबंधनकाहै।इनमेंप्रदेशपदाधिकारीस्तरकेनेताओंकोशामिलकियागयाहै।

इसकेसाथहीपार्टीनेअपनेसभीविधायकोंकोअपनेक्षेत्रमेंहीबनेरहनेकेनिर्देशदिएहै।दरअसलपार्टीनेकुछसमयपहलेचुनावीतैयारियोंऔरसंगठनात्मकगतिविधियोंकेलिएविधायकोकोदूसरेक्षेत्रोंमेंभेजाथा,लेकिनअबचुनावकासमयनजदीकआनेकेसाथहीसभीविधायकोकोअपनेअपनेक्षेत्रमेंहीकामकरनेकोकहागयाहैऔरयहभीकहाहैजहांतकसम्भवहोचुनावतकअपनेक्षेत्रकोनछोडें।