• Home
  • करीब आठ हजार किशोरियों को स्कूल पहुंचाना चुनौती

करीब आठ हजार किशोरियों को स्कूल पहुंचाना चुनौती

नीरजसिंह,कौशांबी:शिक्षाकीगुणवत्ताकोलेकरबेसिकशिक्षाविभागलगातारप्रयासकररहाहै,इसकेबादभीजिलेकी3714किशोरियांकिसीनकिसीकारणसेस्कूलनहींजारहीहैं।जिलाकार्यक्रमविभागनेसूचनाप्रदेशसरकारकोभेजीहै।यहसूचीदोबाराबेसिकशिक्षाविभागकोभेजदीहै।अबइनकिशोरियोंकोस्कूलकीचौखटपरलानाविभागकेलिएचुनौतीबनगईहै।बीएसएनेसभीखंडशिक्षाअधिकारियोंकोबालिकाओंकेपरिवारकेलोगोंसेमिलकरउनकादाखिलाकरानेकानिर्देशदियाहै।

छहसे14सालकेबच्चोंकोअनिवार्यशिक्षाअधिनियमकेतहतस्कूलोंमेंदाखिलादिलानेकानिर्देशहै।इनबच्चोंकोहरहालमेंशिक्षितकियाजानाहै।इसकेबादभीजिलेमें11-14आयुवर्गकी3714किशोरियोंस्कूलनहींजारहीहैं।इनकेपासस्कूलनजानेकापर्याप्तआधारहै।शासनकेनिर्देशकेबादस्कूलनजानेवालीकिशोरियोंकीसूचीजिलाकार्यक्रमअधिकारीकार्यालयनेतैयारकीथीजिसेशासनकोभेजागयाथा।अबशासननेइससूचीकोजिलाबेसिकशिक्षाअधिकारीकार्यालयभेजाहैसाथहीयहनिर्देशदियाहैकिइनकिशोरियोंकेसंबंधमेंजानकारीकरतेहुएव्यक्तिगततौरपरघरपहुंचकरउनकोशिक्षाकीमुख्यधारासेजोड़नेकाकामकियाजाए।दाखिलाकोलेकरअधिकारीचिंतित

बेसिकशिक्षानिदेशकसर्वेद्रविक्रमबहादुरसिंहने23अप्रैलकोसभीएबीएसएकोपत्रभेजकरशिक्षासेवंचितरहगईकिशोरियोंकानामांकनस्कूलोंमेंकरतेहुएसूचीमांगीहै।

जिलाकार्यक्रमअधिकारीराकेशकुमारमिश्रानेबतायाकिजनवरीवफरवरीमाहमेंशासनकेनिर्देशपरस्कूलनजानेवालीकिशोरियोंकासर्वेकरविभागकोभेजागयाथा।

जिलाबेसिकशिक्षाअधिकारीअरविदकुमारनेसभीखंडशिक्षाअधिकारियोंकोनिर्देशदियागयाहैकिवहअपनेक्षेत्रमेंस्कूलनजानेवालीकिशोरियोंकेघरपहुंचेंऔरउनकोशिक्षाकीमुख्यधारासेजोड़तेहुएस्कूलमेंदाखिलाकराएं।----------------

स्कूलकिशोरियां