• Home
  • पीएमओ ऑफिस के प्रधान सचिव का नाम लेकर डीसी को फर्जी फोन करने के मामले की जांच सीआइए टू को

पीएमओ ऑफिस के प्रधान सचिव का नाम लेकर डीसी को फर्जी फोन करने के मामले की जांच सीआइए टू को

जागरणसंवाददाता,यमुनानगर:

पीएमओऑफिसकेप्रधानसचिवनृपेंद्रमिश्राकानामलेकरडीसीकोफर्जीफोनकरनेवालेकेआगेपुलिसकातंत्रफेलहोगयाहै।केसदर्जहोनेकेकरीबडेढ़माहबादभीकॉलकरनेवालोंकापतानहींलगसका।अबइसमामलेकीजांचसीआइएटूकोदीगईहै।मामलेमेंडीसीकैंपकार्यालयकेक्लर्करविद्रकुमारकीओरसेहुडाचौकीमेंकेसदर्जकरवायागयाथा।

यहदीगईथीपुलिसकोशिकायतरविद्रकुमारडीसीकैंपकार्यालयमेंक्लर्कहैऔरअंजूकीकंप्यूटरऑपरेटरकेपदपरड्यूटीहै।डीसीकेकैंपवऑफिसपरआनेवालीलैंडलाइनकॉलकोरिसीवकरवहडीसीसेबातकरवातेहैं।12मार्चकोरविद्रड्यूटीपरथा।तभी15595450230और18312882683नंबरोंसेकॉलआई।कॉलकरनेवालेनेबतायाकिवहपीएमओदिल्लीसेबोलरहाहै।कॉलकरनेवालेनेबतायाकिप्रधानसचिवनृपेंद्रमिश्राडीसीसेबातकरेंगे।जिसपरउन्होंनेकॉलट्रांसफरकरडीसीसेबातकरवादी।

इसकेबाद13मार्चकोडीसीकार्यालयमें1559725807सेकॉलआई।कॉलकरनेवालेप्रधानसचिवकेपीएआशीषकुमारकेनामसेपरिचयकरवाया।उसनेजयतानामकीयुवतीकीनौकरीडीसीकार्यालयमेंरखनेकीबातकही,लेकिनडीसीकेमीटिगमेंहोनेकीवजहसेबातनहींहोपाईथी।बादमेंडीसीकोइसबारेमेंबतायागयातोउन्होंनेनंबरोंकीजांचकरवाई।जिसमेंपायागयाकितीनोंनंबरोंमेंसेकोईभीपीएमओकेकार्यालयकानहींहै।

पुलिसकातंत्रनहींपतालगासकाआरोपितोंका

पुलिसकॉलकरनेवालेआरोपितोंकापतानहींलगासकीहै।जिसयुवतीकोनौकरीपररखवानेकेलिएकॉलकीगईथी।पुलिसउसतकभीनहींपहुंचसकीहै।

जगाधरीसिटीथानाप्रभारीराकेशराणाकाकहनाहैकिइंटरनेशनलनंबरोंसेकॉलकीगईहै।अबइसकेसकीजांचसीआइएटूकररहीहै।उनकेहाथकुछसुरागभीलगेहैं।वहींसीआइएटूप्रभारीश्रीभगवानयादवनेबतायाकिकेसमेंहमारेहाथसुरागलगगएहैं।जल्दहीइसकापर्दाफाशहोजाएगा।

लोकसभाचुनावऔरक्रिकेटसेसंबंधितअपडेटपानेकेलिएडाउनलोडकरेंजागरणएप