• Home
  • पूर्वांचल में गलन बढ़ने से आलू की फसल में झुलसा रोग की आशंका बढ़ी, उद्यान विभाग ने किया सतर्क

पूर्वांचल में गलन बढ़ने से आलू की फसल में झुलसा रोग की आशंका बढ़ी, उद्यान विभाग ने किया सतर्क

वाराणसी,जागरणसंवाददाता। गलनबढ़नेसेमौसममेंलगातारनमीबढ़रहीहै।ऐसेमेंआलूकीफसलमेंझुलसारोगलगनेकीआशंकाबढ़गईहै।इसकेलिएउद्यानविभागनेकिसानोंकोसतर्ककियाहै।जिलाउद्यानअधिकारीसंदीपकुमारगुप्ताकाकहनाहैकिकिसानोंकोयदिआलूकेपौधोंकीपत्तियोंपरपानीजैसेधब्बेनजरआएंतोसतर्कहोजाएं।यहझुलसाकेलक्षणहोसकतेहैं।यहधब्बेपत्तेकोसुखादेतेहैं।पत्तियांतकरोगपहुंचनेपरअधिकनुकसाननहींहोताहै।यदियहरोगतनेतकपहुंचगयातोफसलबर्बादहोसकतीहै।पौधादोसेतीनदिनमेंहीखत्महोजाताहै।इसलिएइनधब्बोंकोतनेतकपहुंचनेसेरोकनेकेलिएफंफूदीनाशककाछिड़कावकरनाहोगा।

जिलाउद्यानअधिकारीसंदीपकुमारगुप्तानेबतायाकिआठऔरनौजनवरीकोबारिशहुईथी।इसकेबादखेतोंमेंनमीअभीतकबनीहुईहै।बारिशकेबादलगातारठंडबढ़ीहै।दोदिनोंसेगलनऔरबढ़गईहै।शीतपड़नेसेमौसममेंअधिकनमीहै।मिट्टीमें80फीसदसेअधिकनमीहोनेपरआलूमेंझुलसारोगकीआशंकाबढ़जातीहै।चोलापुरबबियांवक्षेत्रकेकिसानसौरभसिंहबतातेहैंकिगतदिनोंबारिशसेखेतोंमेंपानीलगगयाहै।अबनमीअधिकहोनेसेआलूकोनुकसानपहुंचरहाहै।मौसमविज्ञानियोंकीमानेंतोअभीकुछदिनोंतकऐसाहीमौसमरहनेकाअनुमानहै।किसानोंकोइसरोगकेफैलनेसेहीपहलेबचावकेउपायकरलेनेचाहिए।

प्रतिहेक्टेयरबनाएंतीनकिलोकाएकहजारलीटरघोल: वहबतातेहैंकिकिसीभीफफूंदीनाशकजैसेसाइमोक्सेनिलऔरमैंकोजेबकीतीनकिलोग्राममात्रालेकरउसेएकहजारलीटरपानीमेंमिलाकरप्रतिहेक्टेयरकीदरसेखेतमेंछिड़कावकरें।डाईमथुवेटमार्कएककिलो,मैन्कोजेबदोकिलो,कुलतीनकिलोमिश्रणबनाकरप्रतिहेक्टेयरएकहजारलीटरपानीमेंमिलाकरभीछिड़कावकरसकतेहैं।फफूंदीनाशकको10दिनमेंदोहरायाजासकताहै।बीमारीकेहिसाबसेइसकासमयघटा-बढ़ालें।

अन्यफसलोंकेलिएउपयोगीहैयहमौसम:कृषिविज्ञानियोंकाकहनाहैकिगेहूंऔरमटरकीफसलोंकेलिएयहमौसमफायदेमंदहै।उधरबढ़तीठंडसेगेहूंकीफसलकोलाभहै।ठंडमेंयहफसलअच्छीहोतीहै।गोपपुरकेकिसानमंगलाप्रसादपांडेयनेबतायाकियहमौसमगेहूंकीफसलकेलिएअच्छाहै।यहमौसमखासतौरसेरबीकीअधिकांशफसलोंकेलिएअच्छामानाजाताहै।इसमेंओसकीबूंदेपत्तियोंपररहतीहैं।जिससेउनमेंनमीबनीरहतीहै।इसमेंगेहूं,मटर,सरसोंकेदानेकीबढ़वारअच्छीहोतीहै।